Tuesday, July 6, 2010

गिनती’ व ‘बड़बोला’ ’ का मंचन












बड़बोला गिनती’


निर्देशक :- सविता शर्मा , निर्दे’शक :- आशा भारती
नन्हे-मुन्ने बच्चों के लिए कथाकार बलराम अग्रवाल द्वारा लिखी गई अभिनेय नृत्य-नाटिकाओं ‘गिनती का गीत’ तथा ‘हैं जंगल के राजा आप’ का मंचन ‘गिनती’ व ‘बड़बोला’ नाम से ‘पलाष’’ संस्था के तत्वाधान में माडर्न पब्लिक सीनियर सैकेंडरी स्कूल, रावतभाटा के वार्षिकोत्सव पर मई 2010 में किया गया। इन नाटिकाओं के मंचन का निर्देशन श्रीमती सविता शर्मा व सुश्री आशा भारती ने किया किंडर गार्डन के बच्चों ने इसे अभिनीत किया। ‘गिनती’ नाटिका में शीनम, गुनगुन, खुशी, ज्योति, मेघा, शाहिन, कुसुम, लक्षिता, मुस्कान व सुमन तथा ‘बडबोला’ नाटिका में अमन विशनोई, विजय, पीयूष, विकास गुप्ता, भरत, यश, रतन, भैरू व तनिष ने अभिनय किया । गीत-संगीत व नृत्य के माध्यम से अबोध बच्चों को गिनतियां कैसे सिखाई जायें यह ‘गिनती नाटिका में दर्शाया गया। ‘बड़बोला’ में प्रकृति सरंक्षा का संदेश है। छोटे बच्चों द्वारा अभिनीत इन नाटिकाओं को दर्शकों ने तो खूब सराहा ही नन्हें कलाकारों ने भी खूब मौज-मस्ती से अभिनय करके इनका मजा लूटा।

4 comments:

उमेश महादोषी said...

संस्कृतिक गतिविधियों पर भी आपकी द्रष्टि रहती है। बहुत अच्छा लगता है। कलाकारों, वह भी बाल-कलाकारों का काफी उत्साहबर्धन होता है इससे । भाई बलराम अग्रवाल की रचनाओं का मंचन हो रहा है, जानकर और भी अच्छा लगा।

प्रदीप कांत said...

अक्छा कार्य चल रहा है।

praveen singh bohra said...

बहुत अच्छा
लिखते रहो


आप के लिए उपयोगों हो सकती है

http://paisa9.blogspot.com/

praveen singh bohra said...

बहुत अच्छा
लिखते रहो


आप के लिए उपयोगों हो सकती है

http://paisa9.blogspot.com/